Browsing Category

Mental Disorder

झूठ बोलने या ठगने का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Falsify, Cheat ]

वेरेट्रम एल्बम 30 — रोगी म्लान-चित्त, उदास, जड़वत् बैठा रहता है, किसी बात पर उसका ध्यान नहीं जाता, पागलपन में वह चिल्लाता है, गालियां बकता है, कपड़े फाड़ डालता है। जब पागलपन का प्रभाव नहीं रहता, तब धोखा देता है, झूठ बोलता है और ठगने की…

इच्छाएं का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Desirous ]

कैलेडियम 6 — यह औषधि स्मृति-शक्ति के ह्रास तथा तंबाकू सेवन की इच्छा को दूर करती है। टैबैकम 1M — इसके प्रयोग से सिगरेट पीने की इच्छा का शमन हो जाता है। सेवाइना सैटाइवा (मूल-अर्क) — इसकी 10-15 बूंद पानी में दिन में दो बार लेने से अफीम खाने…

डर या भय का होने का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Fright ]

जेलसिमियम 30 — कोई इस बात का भय करने लगे कि जिस कमरे में वह लेटा है, उसकी छत उस पर गिर पड़ेगी और वह मर जाएगा। जब इस कल्पना के भय से उसका हृदय धड़कने लगे, तब इस औषधि का प्रयोग करें। क्यूप्रम मेटेलिकम 6 — इस औषधि में थकान, शक्तिहीनता और कंपन…

लालच या लोभ या स्वार्थ का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Treatment For Greed, Selfish ]

पल्सेटिला 6, 30 — यह रोगी भी लोभी और स्वार्थी स्वभाव का होता है, ऐसे रोगी के लिए यह औषधि लाभदायक है। लाइकोपोडियम 30 — स्वार्थ, लोभ और कंजूसी के लिए यह प्रधान औषधि मानी जाती है। आर्सेनिक 6 — यदि उपरोक्त औषधियों से रोगी की लोभ और स्वार्थ…

क्रोध या ग़ुस्सा का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Furious ]

नक्सवोमिका 30 — रोगी किसी रुकावट को बर्दाश्त नहीं कर सकता। रोगी विरोध को सहन नहीं कर सकता, बदला लेने को तत्पर हो जाता है, बड़ा चिड़चिड़ा होता है, बात-बात पर क्रोध करता है; झुंझलाहट हमेशा उसके चेहरे पर होती है। आयोडियम 30 — रोगी वर्तमान-काल…

रोना या सिसकने का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Weep, Sob ]

इग्नेशिया 30, 200 — यदि कोई रोगी स्त्री सुबकती है, आहें भरती है, एक कोने में खामोश बैठी रहती है, किसी से बोलती नहीं; चिंता में डूबी रहती है, रोती है, दुखी होती है, फिर भी उसके रोग का कोई कारण नहीं होता। यह औषधि हिस्टीरिया में भी लाभ करती…

संदेह या शंका या संशय या दुविधा का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Doubt ]

संदेहशीलता भी एक प्रकार का मानसिक विकार है। जो रोगी शंकालु होता है, वह सरलता से किसी पर विश्वास नहीं करता। घर का कोई व्यक्ति यदि कोई औषधि दे, तो वह उसे सेवन करने से मना कर देता है कि कहीं उसमें विष न हो। वह हर किसी को संदेह की दृष्टि से…

आत्महत्या या आत्मघातक का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Suicide ]

आर्सेनिक एल्बम 30 — बहुत से रोगी जीवन से निराश हो जाते हैं, इसलिए उनमें आत्मघात करने की इच्छा जाग्रत हो जाती है, ऐसे रोगियों के लिए यह औषधि उपयुक्त है। ऑरम मेट 30 — प्रायः आत्मघात करने की वो ही सोचते हैं, जो जीवन से निराश हो जाते हैं। इसका…

घमंड या अभिमान या अहंकार का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Pride ]

रोगी एक प्रकार से मानसिक रोग से पीड़ित होता है। वह सबको छोटी दृष्टि-से देखता है, बड़ा घमंडी होता है, ईष्र्या भी बहुत करता है। स्त्री में यह स्थिति तब आती है, जब उसका ऋतु-धर्म दब जाता है। सिमिसिफ्यूगा 3 से ऐसी स्त्री को लाभ होता है।

जलन या ईर्ष्या का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Envy ]

एपिस 6, 30 — जो रोगी ईष्र्यालु होता है, उसे शांत करना कठिन होता है, क्योंकि ईष्र्या के कारण वह क्रोध में उन्मत हो जाता है। ऐसे रोगी के लिए यह औषधि उपयुक्त है। लैकेसिस 30 — रोगी ईष्र्या के मारे पगला-सा जाता है और बकने लगता है, संदेहशील होता…